शीर्ष पांच अमेरिकी मीडिया निगम कौन से हैं?

त्वरित नेविगेशन

  1. वॉल्ट डिज्नी कंपनी
  2. कॉमकास्ट कॉर्पोरेशन
  3. टाइम वार्नर इंक।
  4. सीबीएस निगम

ये निगम कौन सी सेवाएं प्रदान करते हैं?

अमेरिकी मीडिया निगम विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करते हैं, जिनमें टेलीविजन प्रसारण, प्रकाशन और ऑनलाइन सामग्री शामिल है।वे विपणन और विज्ञापन सेवाएं भी प्रदान करते हैं।इन कंपनियों के अक्सर अपने स्वयं के समाचार आउटलेट होते हैं और अपनी स्वयं की प्रोग्रामिंग का निर्माण करते हैं।वे अपनी वेबसाइटों और अन्य मीडिया आउटलेट्स के माध्यम से विज्ञापन स्थान भी बेचते हैं।इनमें से कुछ कंपनियां बड़ी बहुराष्ट्रीय हैं जबकि अन्य छोटे व्यवसाय हैं।वे सभी उत्पादों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला पेश करते हैं जिनका उपयोग विभिन्न दर्शकों तक पहुंचने के लिए किया जा सकता है।

तकनीक और उपभोक्ता व्यवहार में हाल के बदलावों से ये कंपनियां कैसे प्रभावित हुई हैं?

प्रौद्योगिकी और उपभोक्ता व्यवहार में हाल के परिवर्तनों से कई तरीकों से मीडिया समूह प्रभावित हुए हैं।उदाहरण के लिए, पिछले कुछ दशकों में जिस तरह से लोग सूचनाओं का उपभोग करते हैं, उसमें नाटकीय रूप से बदलाव आया है, और अधिक लोग अपनी खबरों और मनोरंजन की जरूरतों के लिए वेबसाइटों, ऐप्स और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे डिजिटल स्रोतों की ओर रुख कर रहे हैं।इसी समय, तकनीकी विकास ने उपभोक्ताओं के लिए कॉपीराइट सामग्री की पायरेटेड प्रतियों तक पहुंचना पहले से कहीं अधिक आसान बना दिया है।नतीजतन, अवैध डाउनलोड और स्ट्रीमिंग सेवाओं के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए इन कंपनियों को अपनी मार्केटिंग रणनीतियों को अनुकूलित करना पड़ा है।इसके अतिरिक्त, लोगों द्वारा सामग्री का उपभोग करने के तरीके में परिवर्तन ने कुछ कंपनियों को सदस्यता सेवाओं के पक्ष में पारंपरिक विज्ञापन मॉडल को छोड़ने के लिए प्रेरित किया है जो उपयोगकर्ताओं को विशेष सामग्री तक पहुंच के लिए मासिक शुल्क लेते हैं।इन सभी कारकों ने इन कंपनियों के मुनाफे पर असर डाला है, यही वजह है कि वे लगातार अपने उत्पादों और सेवाओं का मुद्रीकरण करने के नए तरीकों की तलाश कर रहे हैं।

इन मीडिया कंपनियों के प्राथमिक ग्राहक कौन हैं?

इन मीडिया कंपनियों के प्राथमिक ग्राहक वे व्यक्ति हैं जो मीडिया सामग्री का उपभोग करते हैं।कंपनियां विभिन्न व्यवसायों और संगठनों को विज्ञापन स्थान बेचकर पैसा कमाती हैं।वे डीवीडी, सीडी और अन्य उत्पादों की बिक्री से भी राजस्व अर्जित करते हैं।इसके अलावा, इन कंपनियों को समाचार या मनोरंजन कार्यक्रम बनाने के लिए कभी-कभी सरकारी धन प्राप्त होता है।

ये निगम प्रत्येक वर्ष कितना राजस्व उत्पन्न करते हैं?

शीर्ष पांच अमेरिकी मीडिया निगमों (डिज्नी, टाइम वार्नर, सीबीएस कॉर्पोरेशन, कॉमकास्ट कॉर्पोरेशन और द वॉल्ट डिज़नी कंपनी) ने 2016 में $191.1 बिलियन का संयुक्त राजस्व अर्जित किया।यह 2015 से 5% की वृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है।ये कंपनियां मुख्य रूप से टेलीविज़न प्रोग्रामिंग, मोशन पिक्चर्स, संगीत और मनोरंजन के अन्य रूपों के उत्पादन और वितरण में लगी हुई हैं।वे समाचार संगठन और कई अन्य व्यवसाय भी संचालित करते हैं।

इसमें से अधिकांश राजस्व कहाँ से आता है?

संयुक्त राज्य मीडिया निगमों के लिए राजस्व का सबसे बड़ा स्रोत विज्ञापन से आता है।ये कंपनियां व्यवसायों और उपभोक्ताओं को विज्ञापन बेचकर बड़ा मुनाफा कमाती हैं।राजस्व के अन्य स्रोतों में सदस्यता शुल्क, प्रकाशनों की बिक्री और बौद्धिक संपदा से रॉयल्टी शामिल हैं।इन कंपनियों में स्वामित्व की एकाग्रता ने उनके बीच प्रतिस्पर्धा में वृद्धि की है, जिसने उन्हें संपादकीय मूल्यों को बढ़ावा देने के बजाय मुनाफा कमाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए मजबूर किया है।

अमेरिकी मीडिया निगमों के लिए औसत लाभ मार्जिन क्या है?

अमेरिकी मीडिया निगमों के लिए औसत लाभ मार्जिन लगभग 25% है।इसका मतलब यह है कि ये कंपनियां अपने उत्पादों को अपने प्रतिस्पर्धियों की तुलना में कम कीमत पर बेचकर भी महत्वपूर्ण लाभ अर्जित करने में सक्षम हैं।वास्तव में, इनमें से कई कंपनियां उच्च स्तर की लाभप्रदता बनाए रखने में सक्षम हैं, भले ही समग्र अर्थव्यवस्था में गिरावट शुरू हो।इस लाभ ने इन फर्मों को दुनिया के कुछ सबसे शक्तिशाली और प्रभावशाली व्यवसायों के रूप में अपनी स्थिति बनाए रखने में मदद की है।

ये लाभ मार्जिन अन्य उद्योगों की तुलना कैसे करते हैं?

अन्य उद्योगों की तुलना में संयुक्त राज्य में मीडिया निगमों के पास उच्च लाभ मार्जिन है।उदाहरण के लिए, तेल उद्योग का लाभ मार्जिन लगभग 10% है।हालांकि, मीडिया निगमों के लिए लाभ मार्जिन 30% से अधिक है।इसका मतलब यह है कि ये कंपनियाँ बहुत सारा पैसा बनाने में सक्षम हैं, भले ही उनके उत्पाद उतने महंगे न हों जितने अन्य उद्योगों द्वारा उत्पादित किए जाते हैं।इसके अतिरिक्त, ये कंपनियाँ बहुत पैसा बनाने में सक्षम हैं क्योंकि उनके पास एक बड़ा बाज़ार हिस्सा है।वे अपने उत्पादों के लिए उच्च कीमत वसूलने में भी सक्षम हैं क्योंकि उपभोक्ता उन पर भरोसा करते हैं।

यूएस मीडिया कंपनियां अपनी बैलेंस शीट पर कितना कर्ज लेती हैं?

इस प्रश्न का कोई निश्चित उत्तर नहीं है क्योंकि यह कई कारकों पर निर्भर करता है, जिसमें कंपनी का आकार और प्रकृति, इसका ऐतिहासिक ऋण स्तर और इसने उन ऋणों को कैसे वित्तपोषित किया है।हालांकि, एसएनएल कगन द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, औसत अमेरिकी मीडिया कंपनी का कुल ऋण (अल्पावधि देनदारियों सहित) $ था।

कुछ कंपनियाँ नई इक्विटी जारी करके या भावी राजस्व धाराओं के विरुद्ध धन उधार लेकर अपने समग्र ऋण बोझ को कम करने में सक्षम रही हैं।उदाहरण के लिए, 21st सेंचुरी फॉक्स ने 2012 के बाद से अपने कुल ऋण भार को लगभग आधा कर दिया है, जो संपत्ति की बिक्री और उधार की एक श्रृंखला के लिए धन्यवाद है जिसने $ उठाया

कुल मिलाकर, हालांकि, इस बात के प्रमाण हैं कि अमेरिकी मीडिया कंपनियां अपने संचालन को वित्तपोषित करने के लिए उधार ली गई धनराशि पर निर्भर हैं।यह इन फर्मों के लिए कुछ जोखिम पैदा कर सकता है यदि ब्याज दरें बढ़ती हैं या यदि भविष्य में कोई अप्रत्याशित आर्थिक गिरावट आती है।

  1. 31 दिसंबर, 20 तक 1 बिलियन यह आंकड़ा 2015 के स्तर से 10% से अधिक की वृद्धि का प्रतिनिधित्व करता है और इस प्रकार के ऋण के लिए दर्ज किए गए उच्चतम स्तर को चिह्नित करता है।
  2. तीन अरब।विज्ञापन राजस्व में गिरावट या उपभोक्ता व्यवहार में बदलाव से उपजे वित्तीय दबावों के कारण अन्य कंपनियों को और अधिक कर्ज लेने के लिए मजबूर होना पड़ा है।उदाहरण के लिए, टाइम वार्नर की शुद्ध आय 2014 और 2016 के बीच 50% से अधिक गिर गई, जबकि CNN और TNT जैसे केबल नेटवर्क के लिए किए गए बड़े भुगतानों के कारण इसकी कुल ऋणग्रस्तता $10 बिलियन से अधिक बढ़ गई, जिसे आज की तुलना में कम मूल्यवान के रूप में देखा जाता है। दो वर्ष पहले।

आज अमेरिकी मीडिया निगमों के सामने सबसे बड़ी चुनौतियाँ क्या हैं?

  1. डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म से बढ़ती प्रतिस्पर्धा।
  2. सोशल मीडिया का उदय और लोगों द्वारा समाचारों का उपभोग करने के तरीके पर इसका प्रभाव।
  3. मीडिया उद्योग में प्रौद्योगिकी कंपनियों का बढ़ता प्रभाव।
  4. फर्जी समाचार और ऑनलाइन प्रचार से उत्पन्न चुनौतियाँ।
  5. अमेरिकी मीडिया परिदृश्य पर वैश्वीकरण का प्रभाव।
  6. स्ट्रीमिंग सेवाओं और मोबाइल ऐप्स के माध्यम से लोगों द्वारा सामग्री का उपभोग करने के बदलते तरीके।

क्या ये व्यवसाय लंबी अवधि में टिकाऊ हो सकते हैं?

अमेरिकी मीडिया निगमों पर लंबी अवधि में अधिक टिकाऊ बनने का दबाव है।इनमें से कई व्यवसायों की जलवायु परिवर्तन और अन्य पर्यावरणीय मुद्दों को बढ़ावा देने में उनकी भूमिका के लिए आलोचना की गई है।कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि अगर इन कंपनियों को भविष्य में व्यवहार्य बने रहना है तो उन्हें बदलाव करने की जरूरत है।

इन व्यवसायों को जिन कुछ बदलावों की आवश्यकता है, उनमें कार्बन फुटप्रिंट को कम करना, अपने संचालन के बारे में पारदर्शिता बढ़ाना और नई तकनीक में निवेश करना शामिल है।अगर ये कंपनियां इन लक्ष्यों को पूरा करने में महत्वपूर्ण कदम उठा सकती हैं, तो इससे उन्हें बाज़ार में मजबूत उपस्थिति बनाए रखने में मदद मिल सकती है।हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जब स्थिरता की बात आती है तो कोई एक आकार-फिट-सभी समाधान नहीं होता है; प्रत्येक कंपनी को अपनी विशिष्ट परिस्थितियों और जरूरतों के आधार पर अपनी योजना विकसित करनी होगी।

क्या कोई नियामक या नीतिगत मुद्दे हैं जो भविष्य में इन व्यवसायों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं?

ऐसे कई विनियामक और नीतिगत मुद्दे हैं जो भविष्य में इन व्यवसायों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकते हैं।इनमें से कुछ में एंटीट्रस्ट कानूनों, कराधान नीतियों, डिजिटल अधिकार प्रबंधन (डीआरएम) उपायों और विज्ञापन उद्योग के आसपास के नियमों में संभावित बदलाव शामिल हैं।इसके अतिरिक्त, एक जोखिम है कि इन कंपनियों को तकनीकी प्रगति से चोट लग सकती है जो उनके व्यापार मॉडल को चुनौती दे सकती है।उदाहरण के लिए, सोशल मीडिया जैसे नए प्लेटफॉर्म उपभोक्ताओं के लिए सूचना के वैकल्पिक स्रोत खोजना आसान बना सकते हैं।यदि ऐसा होता है, तो इससे अमेरिकी मीडिया कंपनियों के लिए दर्शकों की संख्या और आय में कमी आ सकती है।एक और मुद्दा जो इन व्यवसायों को प्रभावित कर सकता है वह है वैश्विक आर्थिक मंदी।यदि अधिक लोग टीवी देखने या समाचार पत्र पढ़ने के बजाय सूचना के वैकल्पिक स्रोतों की ओर रुख करते हैं, तो अमेरिकी मीडिया निगमों को आर्थिक रूप से नुकसान हो सकता है।इसके अलावा, यदि सरकार इन व्यवसायों पर कड़े नियम लागू करती है या करों में वृद्धि करती है, तो उन्हें अतिरिक्त वित्तीय चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।कुल मिलाकर, ऐसे कई संभावित जोखिम और चुनौतियाँ हैं जो भविष्य में अमेरिकी मीडिया निगमों को प्रभावित कर सकती हैं - इसलिए कंपनियों के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वे वर्तमान घटनाओं और नियामक विकास पर अद्यतित रहें ताकि तदनुसार योजना बना सकें।